महिलाओं के लिए मुद्रा समृद्धि योजना & मुद्रा लोन योजना क्या है? – Loan For Ladies

महिला उद्यमियों के लोन के रूप में भी जाना जाने वाला, महिलाओं के लिए बिज़नेस लोन ( Loan For Ladies) विशेष रूप से महिला उद्यमियों की व्यावसायिक आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए डिज़ाइन किया गया एक विशेष प्रकार का लोन है। इस तरह के लोन आम तौर पर कम ब्याज दर, कम प्रोसेसिंग शुल्क, और बिना संपार्श्विक गारंटी आवश्यकताओं द्वारा वर्गीकृत किए जाते हैं।

Women Merchants को प्रोत्साहित करने और उनके बिज़नेस को प्रोत्साहन देने के उद्देश्य से, सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण मंत्रालय, भारत सरकार ने एक स्ट्रेटजी पॉलिसी – महिला समृद्धि योजना लागू की है। दूरदर्शी योजना के तहत, सरकार महिला व्यापारियों को आर्थिक सहायता प्रदान करती है जो समाज के हाशिए वर्गों से आती हैं। महिला सशक्तिकरण को देखते हुए, इस योजना को देशभर में कई तरह के चैनल पार्टनर द्वारा लागू किया जा रहा है। योजना के तहत, महिला लाभार्थियों की पहचान की जाती है और उन्हें सीधे या स्वयं सहायता समूह (SHG) के रूप में लोन दिया जाता है।

महिला कारोबारियों के लिए मुद्रा लोन योजना

नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा महिला सशक्तिकरण पर बहुत जोर दिया जा रहा है। महिला सशक्तिकरण तभी संभव है जब महिलाओं की भागीदारी रोजगार और स्वरोजगार में अधिक से अधिक होगी। महिलाओं को आर्थिक रुप से सक्षम बनाने के लिए केन्द्र सरकार द्वारा महिलाओं के लिए चलाई जा रही महिला लोन स्कीम 2020-21 में प्रधानमत्री मुद्रा ऋण योजना प्रमुख है। पीएम मुद्रा लोन योजना की ख़ासियत यह है कि इस योजना के तहत अगर 4 लोगों को बिजनेस लोन दिया गया तो उन 4 लोगों में से 3 महिलाएं शामिल हैं।

मुद्रा लोन क्या है?

यह एक सरकारी लोन योजना है। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) यानी मुद्रा लोन योजना में MSME कारोबारियों को 10 लाख तक का बिजनेस लोन बिना कुछ गिरवी रखे मिलता है। योजना के तहत नया कारोबार शुरु करने के लिए और पुराने बिजनेस को बढ़ाने के लिए बिजनेस लोन मिलता है। मुद्रा लोन के तहत 3 कैटेगरी में बिजनेस लोन मिलता है:

  • शिशु लोन – 50 हजार रुपये तक
  • किशोर लोन – 50 हजार से 5 लाख रुपये तक
  • तरुण लोन – 5 लाख से 10 लाख रुपये तक
Loan For Ladies
Loan For Ladies

महिला कारोबारियों पर फोकस

मुद्रा लोन जब से लांच हुई है तब से ही महिलाओं को बिज़नेस लोन देने पर जोर दिया जा रहा है। यही कारण है कि मुद्रा योजना (PMMY) के तहत लोन लेने वाले चार लोगों में से तीन शामिल महिलाएं हैं। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के अनुसार मुद्रा लोन स्कीम के तहत अबतक 1.62 करोड़ रुपये का लोन बाटा जा चुका है। सबसे अच्छी बात महिला पर्सनल लोन लेने के बजाय अब महिलायों के लिए लोन का लाभ ले सकती है। 

कोविड-19 के चलते हुए देश भर में लॉकडाउन से छोटे कारोबारियों को उबारने के लिए मुद्रा लोन के तहत दिये गये शिशु लोन की ब्याज दर में भी छूट दी जा रही है। शिशु लोन की ब्याज दर पर 2 प्रतिशत तक छूट दी जा रही है। सरकार का कहना है कि ब्याज पर छूट का लाभ 3 करोड़ लोगों को मिला है। महिला कर्ज योजना के तहत महिलायें बढ़-चढ़ के महिलाओं के लिए बिजनेस लोन का लाभ उठा रही है। 

सुविधाएँ और लाभ (Loan For Ladies)

महिलाओं के लिए बिज़नेस लोन निम्न लाभ देता है –

  • स्केलिंग बिज़नेस में मदद करता है – महत्वकांक्षी महिला उद्यमियों के लिए महिला उद्यमी लोन अपने बढ़ते व्यवसाय को नई ऊंचाईयों तक पहुंचाने का एक आसान तरीका है
  • दिन-प्रतिदिन की व्यावसायिक जरूरतों को पूरा करने में मदद करता है – महिलाओं के लिए बिज़नेस लोन का उपयोग करके, महिला उद्यमी सभी अल्पकालिक परिचालन खर्चों को आवरित करने हेतु कंपनी के लिए आवश्यक सक्रिय कैपिटल बढ़ा सकती हैं।
  • कोई संपार्श्विक दायित्व नहीं – महिलाओं के लिए बिज़नेस लोन आम तौर पर अरक्षित लोन होते हैं जिनका लाभ उठाना आसान होता है
Loan For Ladies
Loan For Ladies

मुद्रा लोन योजना में किस काम के लिए लोन मिलता है?

मुद्रा लोन मुख्य रुप से दो कार्यो के लिए प्रदान किया जाता हैः

  • पुराने बिजनेस का संचालन करने के लिए।
  • एमएसएमई कैटेगरी का बिजनेस शुरु करने के लिए।

महिला समृद्धि योजना 

महिला समृद्धि योजना (MSY) के तहत आवेदन किये गए लोन की 95% राशि दी जाएगी और बाकी 5% को राज्य चैनेलाइजिंग एजेंसियों (SCAs) या लाभार्थी की ओर दिया जाएगा। दिशा-निर्देश संकेत देते हैं कि प्राप्त लोन की उपयोग अवधि 4 महीने है, जो लोन राशि ट्रान्सफर की तारीख से शुरू होती है। (Loan For Ladies)

लोन लिमिट ब्याज दर
₹ 60, 000 प्रति लाभार्थी SCA लाभार्थी
1 %  प्रतिवर्ष 4 %  प्रतिवर्ष

You May Also Like Types Of Loan In India

योग्यता

क्योंकि MSY योजना समाज के हाशिए पर रहने वाली महिलाओं के जीवन में बदलाव लाने के लिए है, तो ये सुनिश्चित करने के लिए कि लोन सही लोगों को मिले लोन लेने के लिए कठोर योग्यता शर्तें हैं। योग्यता शर्तें में शामिल हैं:

  • समाज के पिछड़े वर्गों के स्वयं सहायता समूह (SHG) और महिला उद्यमी केवल इस लोन योजना का लाभ लेने के लिए योग्य हैं
  • महिला लाभार्थी की न्यूनतनम आयु 18 वर्ष
  • लाभार्थी BPL कैटेगरी के अंतर्गत आता हो
  • लाभार्थी की वार्षिक आय 3 लाख रु. प्रतिवर्ष से कम होनी चाहिए
  • कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं होना चाहिए

किसी भी तरह का गलत ब्योरा या डेटा देने से किसी आवेदन को नामज़ूर किया जा सकता है।( Loan For Ladies)

अन्य महत्वपूर्ण जानकारी

स्वयं सहायता समूह (SHG): आर्थिक रूप से उन लोगों के समूह को कहते हैं जो समूह की गतिविधियों में बचत और योगदान करके अपनी आय को बढ़ाने के लिए एक समूह बनाते हैं

चैनल पार्टनरचैनल पार्टनर को क्षेत्र में सक्षम पेशेवरों द्वारा परिभाषित जाता है; आर्थिक गतिविधियों में और MSY लोन का लाभ उठाने में समूह और उसके सदस्यों की मदद करें

राशन सदस्य : नियमों और विनियमों के अनुसार, SHG में अधिकतम 20 महिला सदस्यों की अनुमति है, जिसमें से 75% सदस्य पिछड़े वर्ग से होने चाहिए, जो योग्यता शर्तों में अनिवार्य है, जबकि बाकी 25% महिला सदस्यों में अन्य कमजोर वर्ग – अनुसूचित जाति या शारीरिक रूप से विकलांग शामिल होनी चाहिए।

लोन ट्रान्सफर: लोन का वितरण राज्य चैनेलाइजिंग एजेंसियों (SCAs), क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों (RRB) और राष्ट्रीय बैंकों के माध्यम से लाभार्थियों को किया जाता है।

Also Read Loan Against Security

विशेषताएं और फायदे (महिला समृद्धि योजना)

महिला समृद्धि योजना सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण मंत्रालय की प्रमुख योजना है, भारत सरकार ने भारत भर में सैकड़ों महिलाओं के जीवन को बदलने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, इसके कुछ लाभ निम्नलिखित हैं:

  • लाभार्थी की सामाजिक-आर्थिक स्थिति को बदलता है
  • गरीबी से पीड़ित परिवार की मुख्यधारा में भूमिका निभाता है
  • रोज़गार के अवसर पैदा करने में सहयोग करता है
  • महिलाओं के बीच उद्यमशीलता को बढ़ावा देता है
  • महिलाओं को सशक्त और आत्मनिर्भर बनाता है
  • न्यूनतम दस्तावेज़
  • महिलाओं में आत्म-विश्वास को बढ़ाता है

आवश्यक दस्तावेज़

MSY लोन को देश के हर कोने से आने वाली महिलाओं से भारी प्रतिक्रिया मिल रही है। इसके लिए न्यूनतम कागज़ी प्रक्रिया है। महिलाओं को सशक्त बनाने और उनकी सामाजिक-आर्थिक स्थिति को ऊपर उठाने के उद्देश्य से लोन सुविधा का लाभ उठाने के लिए निम्नलिखित दस्तावेज़ों की आवश्यकता होती है:

  • आवेदन फॉर्म
  • पहचान प्रमाण – वोटर आईडी कार्ड
  • स्व-समूह सदस्यता आईडी कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र
  • बैंक बहीखाता
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • निवास प्रमाण (बिजली बिल या राशन कार्ड में से कोई एक)

जैसा कि MSY लोन पिछड़े वर्गों के लिए है, यह सामने आया है, काफी संख्या में महिला लाभार्थियों ने अपनी सामाजिक-आर्थिक स्थिति को उठा लिया है।

मुद्रा लोन योजना इस तरह के बिजनेस को मिल सकता है:

  • प्रोपराइटरशिप फर्म
  • पार्टनरशिप फर्म
  • छोटी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट
  • सर्विस सेक्टर कंपनी
  • दुकानदार
  • फल-सब्जी विक्रेता
  • ट्रक/कार ड्राईवर
  • होटल मालिक
  • रिपेयर शॉप
  • मशीन ऑपरेटर
  • छोटे उद्योग
  • फ़ूड प्रोसेसिंग यूनिट
  • ग्रामीण एवं शहरी इलाके का कोई अन्य ग्रामोद्योग

 मुद्रा लोन लेने के लिए निम्न डाक्यूमेंट्स की जरूरत पड़ती है

  • 2 फोटो
  • पहचान पत्र के लिए आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर कार्ड, पासपोर्ट, बैंक पासबुक, ड्राइविंग लाइसेंस इत्यादि में से किसी एक की फोटोकॉपी । यहां इस बात का ध्यान रखना होगा कि आप जो भी पहचान पत्र की फोटोकॉपी दे रहे हैं उसपर खुद का हस्ताक्षर करके ही देना होता है।
  • पता प्रमाण पत्र के लिए सरकार द्वारा जारी कोई भी प्रमाण पत्र जिससे यह साबित होता है कि आप उस पते पर रहते हैं, जैसे- आधार कार्ड, निवास प्रमाण पत्र, बिजली बिल, पानी की बिल इत्यादि। इस कॉपी पर भी खुद का हस्ताक्षर करना होगा।
  • बैंक स्टेटमेंट की कॉपी – यह कम से कम 3 महीने की होना चाहिए
  • जाति प्रमाण पत्र की कॉपी (अगर आप आरक्षित जाति से हैं और उसका लाभ उठाना चाहते हैं तब इसकी जरूरत पड़ेगी)
  • कारोबार के पता का प्रमाण पत्र – कारोबार का पहचान व पते का प्रमाण अपने कारोबार से संबंधित लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट या अन्य कोई दस्तावेज जमा करना होगा। यह इस बात का प्रमाण है कि आप उस बिजनेस के मालिक हैं।
  • इन्वेंटरी खरीद करने का बिल की कॉपी (यह तब लागू होता है, कारोबार बढ़ाने के लिए मुद्रा लोन लिया जाता है

मुद्रा लोन योजना के लिए कौन अप्लाई कर सकता है?

सूक्ष्म, लघु एवं माध्यम उद्योग (एमएसएमई) सेक्टर के सभी कारोबारी मुद्रा लोन पाने के योग्य होते हैं। जिन – जिन सेक्टर को मुद्रा लोन मिल सकता है, वह लिस्ट निम्न है:

  • छोटे कारोबार के लिए लोन चाहने कारोबारी
  • प्रोपराइटरशिप फर्म
  • पार्टनरशिप फर्म
  • छोटे मैनुफैक्चरिंग फैक्ट्री
  • छोटे सर्विस कंपनी
  • दुकानदार
  • फल-सब्जी विक्रेता
  • ट्रक/कार ड्राइवर
  • होटल मालिक
  • रिपेयर शॉप
  • मशीन ऑपरेटर
  • छोटे उद्योग खाद्य प्रसंस्करण (फ़ूड प्रोसेसिंग ग्रुप) इकाई
  • ग्रामीण एवं शहरी इलाके के अन्य उद्योग

मुद्रा लोन लेने के लिए क्या करना चाहिए

जिस भी महिला व्यवसायी को मुद्रा लोन चाहिए, उन्हें अपनी पात्रता सबसे पहले जांचना चाहिए। मुद्रा लोन प्राप्त करने की पात्रता दो तरह से डिसाइड होती है। बेसिक पात्रता और अनिवार्य पात्रता।

मुद्रा लोन की बेसिक पात्रता

Applied Person

  • की नागरिकता भारतीय हो।
  • मुद्रा लोन का उपयोग गैर-कृषि कारोबार के लिए किया जाना हो।
  • जिस भी कारोबार के लिए मुद्रा लोन लेना हो, वह कॉरपोरेट संस्था नहीं होनी चाहिए।
  • बिजनेसमैन के पास मुद्रा लोन का उपयोग करने का प्रोजेक्ट तैयार हो।

मुद्रा लोन इस तरह के बिजनेस को मिल सकता है:

  • प्रोपराइटरशिप फर्म
  • पार्टनरशिप फर्म
  • छोटी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट
  • सर्विस सेक्टर कंपनी
  • दुकानदार
  • फल-सब्जी विक्रेता
  • ट्रक/कार ड्राईवर
  • होटल मालिक
  • रिपेयर शॉप
  • मशीन ऑपरेटर
  • छोटे उद्योग
  • फ़ूड प्रोसेसिंग यूनिट
  • ग्रामीण एवं शहरी इलाके का कोई अन्य ग्रामोद्योग

CLICK

About naveenduhan

Check Also

PFA Full Form in Mail | पीएफए की फुल फॉर्म क्या है?

दोस्तों, अगर आप इन्टरनेट का उपयोग करते हैं तो आप Email के बारे में भी …