क्या है Kisan Credit Card? – और Kisan Credit Card से Loan कैसे मिलेगा जानिए हिंदी में

किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) भारत सरकार की एक योजना है जिसका उद्देश्य असंगठित क्षेत्र के किसानों को आमतौर पर उधारदाताओं जैसे साहूकारों द्वारा वसूल की जाने वाली उच्च-ब्याज दरों से बचाना है। इस योजना के तहत ब्याज दर 2.00% तक कम हो सकती है। इसके अलावा, पुनर्भुगतान अवधि फसल की कटाई या व्यापार अवधि पर आधारित होती है जिसके लिए लोन राशि ली गई थी। अन्य जानकारी नीचे दी गई है।

किसान क्रेडिट कार्ड योजना की शुरुआत अगस्त 1998 में तत्कालीन वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा द्वारा की गई थी। इससे किसानों को कर्जा मिल रहा है उस की ब्याज दर कम होती है जिसकी वजह से किसान आसानी से कर ले सकता है वह सरकार की तरफ से होता है इसीलिए किसान क्रेडिट कार्ड सुविधा सबसे अच्छी सुविधा है |

इसमें किसान को 50000 से 300000 तक का कर्ज दिया जाता है जिसके ब्याज दर छहः माह तक 4% तथा एक साल के लिए 7% परसेंट होती है जो किसानों के लिए बहुत ही अच्छी है इस किसान क्रेडिट कार्ड की वजह से किसान अपनी फसल का बीमा भी करवा सकते हैं जिस किसी भी कारण से अपनी फसल नष्ट होने पर उनको मुआवजा भी दिया जाता है जैसे बाढ़ की स्थिति में फसल का डूब के नष्ट हो जाना या सूखा पड़ने पर फसल का जल जाना आदि सुविधाओं में यह किसान क्रेडिट कार्ड बहुत ही ज्यादा काम आता है इसकी वजह से किसान लाभ उठा सकता है|

You Must Read This Axis Bank Neo Credit Card Kya Hai

Kisan Credit Card Yojana 2022

किसान क्रेडिट कार्ड Scheme के अंतर्गत देश के किसानों को एक क्रेडिट कार्ड प्रदान किया जाएगा। जिसके माध्यम से उन्हें 1 लाख 60 हजार का का लोन दिया जाएगा। इस लोन के माध्यम से देश के किसान अपनी खेती की और अच्छे से देखभाल कर पाएंगे। इसी के साथ किसान अपनी फसल का बीमा भी करा पाएंगे।

हाल ही में किसान क्रेडिट कार्ड योजना के अंतर्गत पशु पालक तथा मछुआरों को भी शामिल किया गया है। यदि आप भी Kisan Credit Card Yojana के अंतर्गत क्रेडिट कार्ड प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर हमारी दी गई प्रक्रिया को फॉलो करना होगा। किसान क्रेडिट कार्ड योजना के अंतर्गत लोन बिना किसी गारंटी के किसानों को 4% ब्याज दर पर प्रदान किया जाएगा।

Kisan Credit Card
Kisan Credit Card

किसान क्रेडिट कार्ड – विशेषताएं और लाभ

किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) की विशेषताएं और लाभ हैं:

  • ब्याज दर 2.00% जितनी कम हो सकती है
  • 1.60 लाख रुपये तक के लोन बिना किसी सिक्योरिटी/ सुरक्षा के प्रदान किया जाता है
  • किसानों को फसल बीमा योजना भी प्रदान की जाती है
  • निम्नलिखित बीमा कवरेज प्रदान की जाती है
  • स्थायी विकलांगता और मृत्यु पर 50,000 रुपये तक
  • अन्य जोखिमों के मुकाबले 25,000 रुपये तक प्रदान किया जाता है
  • भुगतान अवधि फसल की कटाई और व्यापार अवधि पर आधारित होती है जिसके लिए लोन राशि ली गई थी
  • कार्ड धारक द्वारा 3.00 लाख रुपये तक की लोन राशि निकाली जा सकती है
  • 1.60 लाख रुपये तक के लोन पर सिक्योरिटी की आवश्यकता नहीं है
  • किसान अपने किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) अकाउंट में बचत पर उच्च ब्याज दर प्राप्त करते हैं
  • सरल ब्याज दर तब तक चार्ज की जाती है जब तक उपयोगकर्ता शीघ्र भुगतान करता है। अन्यथा चक्रवृद्धि ब्याज दर लागू हो जाती है

Top Bank जो किसान क्रेडिट प्रदान करते हैं

किसान क्रेडिट कार्ड योजना NABARD (नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट) द्वारा निर्धारित की गई थी और भारत के सभी प्रमुख बैंकों द्वारा इसका पालन किया गया है। KCC की पेशकश करने वाले शीर्ष बैंक हैं:

भारतीय स्टेट बैंक प्रदान करने वाले सवसें बड़े बैंक में से एक है। एसबीआई किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) पर लगाया गया ब्याज 3.00 लाख रुपये तक के लोन राशि पर प्रति वर्ष 2.00% तक कम हो सकता है।

पंजाब नेशनल बैंक-सबसे अधिक अनुरोधित क्रेडिट कार्डों में से एक है। आवेदन प्रक्रिया काफी आसान है और उपयोगकर्ता शीघ्र वितरण प्रक्रिया की उम्मीद कर सकते हैं।

एचडीएफसी बैंक- एचडीएफसी बैंक किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) लगभग 9.00% की ब्याज दर पर लोन प्रदान करते हैं। ऑफर की गई अधिकतम क्रेडिट सीमा 3.00 लाख रुपये है। 25,000 रुपये की क्रेडिट सीमा वाली चेक बुक भी जारी की गई है। इसके अलावा, अगर कोई किसान फसल खराब होने से पीड़ित है, तो उन्हें 4 साल या उससे अधिक का समय मिल सकता है। प्राकृतिक आपदाओं या कीटों के हमलों के कारण फसल खराब होने पर बीमा कवरेज भी प्रदान किया जाता है।

एक्सिस बैंक ब्याज दर प्रदान करते हैं जो 8.85% से शुरू होती है। हालांकि, वे सरकारी अधीनता योजनाओं के अनुरूप इससे कम ब्याज दर पर लोन प्रदान करते हैं।

इसके अलावा अन्य बैंक भी हैं जो किसान क्रेडिट कार्ड प्रदान करते हैं। य़े हैं:

बैंक ऑफ इंडिया ओडिशा ग्राम्य बैंक
इंडियन ओवरसीज बैंक बंगिया ग्रामीण विकास बैंक
Kisan Credit Card
Kisan Credit Card

क्रेडिट कार्ड स्कीम में आवेदन के लिए दस्तावेज –

वे इच्छुक उम्मीदवार जो Kisan Credit Card Yojana का आवेदन करना चाहते है उन्हें कुछ जरूरी दस्तावेजों की आवश्यकता होगी जिनके विषय में आप नीचे दी गयी जानकारी के माध्यम से जानकारी प्राप्त कर सकते है। ये दस्तावेज निम्न प्रकार है –

  1. आवेदक के पास आधार कार्ड होना चाहिए, आप पहचान के लिए ड्राइविंग लाइसेंस, बिजली का बिल, पहचान पत्र आदि भी दे सकते है।
  2. खाता खतौनी
  3. बैंक में खाता होना चाहिए जो आधार से लिंक हो
  4. मोबाइल नंबर
  5. पासपोर्ट साइज फोटो
  6. पैन कार्ड
  7. किसान के पास खेती के लिए योग्य भूमि होनी चाहिए।
  8. किसान भारत का मूल निवासी होना चाहिए।
  9. किसान क्रेडिट कार्ड के लिए वे सभी किसान आवेदन कर सकते है,जो अपनी भूमि में कृषि
    उत्पादन करते है या फिर किसी अन्य के भूमि में कृषि करते हो।
  10. या फिर जो किसी भी प्रकार से कृषि फसल उत्पादन से जुड़े हो।

Also read Land Loan Kaise Lein

2.5 करोड़ किसानों को प्रदान किया गया किसान क्रेडिट कार्ड

8 अक्टूबर 2021 को केंद्र सरकार द्वारा यह अधिसूचना जारी की गई है कि सैचुरेशन ड्राइव के माध्यम से लगभग 2.5 करोड़ किसानों को 2.62 लाख करोड़ रुपए की क्रेडिट सीमा के साथ किसान क्रेडिट कार्ड प्रदान किया गया है। केंद्र सरकार द्वारा इस योजना का शुभारंभ किया गया था। जिसके माध्यम से किसानों को समय पर ऋण उपलब्ध करवाया जाता है।

इस योजना को सन 1998 में अल्पकालिक औपचारिक ऋण प्रदान करने के उद्देश्य से आरंभ किया गया था। किसान क्रेडिट कार्ड योजना नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट द्वारा संचालित की जाती है। अब इस योजना को पीएम किसान सम्मान निधि योजना से जोड़ दिया गया है।

पीएम किसान लाभार्थी अधिकतम कवरेज के लिए प्रयास

वह लाभार्थी जिनको पीएम किसान योजना का लाभ प्राप्त हो रहा है लेकिन किसान क्रेडिट कार्ड योजना का लाभ नहीं प्राप्त हो रहा उनकी सूची बैंक द्वारा गांव के सरपंच को भेजी जाएगी। इसके पश्चात पीएम किसान के लाभार्थियों को अपना किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए प्रेरित किया जाएगा। इसके अलावा सरकार द्वारा पीएम किसान पोर्टल के माध्यम से सभी लाभार्थियों को एक s.m.s. भेजा जाएगा। इस एसएमएस के माध्यम से उन्हें किसान क्रेडिट कार्ड लेने के लिए प्रेरित किया जाएगा।

  • किसान क्रेडिट कार्ड योजना का लाभ उठाने के लिए सभी पीएम किसान लाभार्थियों को एक फॉर्म भरना होगा जिसमें उनको सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी यह फॉर्म शेड्यूल कमर्शियल बैंक, पीएम किसान पोर्टल आदि के माध्यम से भी डाउनलोड किया जा सकता है।
  • इस योजना की जानकारी ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाई जाएगी। जिसके लिए सरकार द्वारा प्रचार किया जाएगा। लाभार्थी द्वारा इस योजना के अंतर्गत कॉमन सर्विस सेंटर के माध्यम से भी फॉर्म भरा जा सकता है। सभी अधिकारियों से यह अनुरोध किया गया है कि इस योजना की जानकारी सभी लाभार्थियों तक पहुंचाई जाए जिससे कि ज्यादा से ज्यादा लोग इस योजना का लाभ उठा सकें।

किसान क्रेडिट कार्ड योग्यता

किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) के लिए आवेदन करने के लिए यहाँ योग्यता शर्तें है:

  • सभी किसान जो अकेले या अधिक व्यक्ति के साथ मिलकर खेती या खेती संबंधित कार्य करते हैं 
  • वे व्यक्ति जो स्वामी सह कृषक हैं
  • सभी किरायेदार किसान या मौखिक पट्टेदार और कृषि भूमि में बटाईदार हैं
  • स्वयं सहायता समूह या संयुक्त देयता समूह जिसमें किरायेदार किसान या बटाईदार शामिल हैं
  • किसानों को 5,000 रु. और उससे अधिक के उत्पादन लोन के लिए योग्य होना चाहिए, और फिर वह किसान क्रेडिट कार्ड का हकदार होगा
  • ऐसे सभी किसान जो फसल उत्पादन या किसी भी संबद्ध गतिविधियों के साथ–साथ गैर–कृषि गतिविधियों के लिए शार्ट-टर्म लोन के लिए योग्य हैं
  • किसानों को बैंक के क्षेत्र का निवासी होना चाहिए

किसान क्रेडिट कार्ड कैसे काम करता है

किसान क्रेडिट कार्ड नियमित असुरक्षित क्रेडिट कार्ड से अलग हैं। वे निम्नलिखित तरीके से काम करते हैं।

  • ग्राहक को बैंक जाना चाहिए और फिर किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करना होगा
  • लोन अधिकारी उस लोन राशि पर निर्णय करेगा जो आवेदक को दी जाएगी। यह 3.00 लाख रुपये तक हो सकती है
  • एक बार राशि स्वीकृत होने के बाद, उपयोगकर्ता को बैंक का किसान क्रेडिट कार्ड जारी किया जाएगा
  • कार्डधारक अब उस क्रेडिट की सीमा पर वस्तुओं की खरीद कर सकता है
  • ब्याज दर केवल लिए गए लोन की राशि पर लागू होगी
  • समय पर भुगतान सुनिश्चित करेगा कि निकाले गए लोन पर न्यूनतम ब्याज दर लागू हो

केसीसी कार्डधारक को गतिशील लोन प्रदान करता है। इसका अर्थ है कि उपयोगकर्ता अधिकतम क्रेडिट सीमा तक अपनी आवश्यकताओं के अनुसार लोन राशि निकाल सकते हैं। यह सुनिश्चित करेगा कि उन्हें एक बड़ी मूल राशि से जुड़े बड़े ब्याज का भुगतान नहीं करना पड़ेगा।

हम आपको नीचे सूची में बैंक के नाम और उनकी ऑफिसियल वेबसाइट दे रहे है जहां पर आप किसान क्रेडिट कार्ड के लिए ऑनलाइन लोन के लिए अप्लाई कर सकते है।

बैंक का नाम आधिकारिक वेबसाइट
स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया sbi.co.in
पंजाब नेशनल बैंक www.pnbindia.in
अलाहाबाद बैंक https://www.indianbank.in
ICIC बैंक www.icicibank.com
बैंक ऑफ़ बड़ौदा www.bankofbaroda.in
आंध्रा बैंक www.andhrabank.in
कैनरा बैंक https://canarabank.com
सर्वा हरियाणा ग्रामीण बैंक https://www.shgb.co.in
ओडिशा ग्राम्या बैंक https://odishabank.in
बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र https://www.bankofmaharashtra.in
एक्सिस बैंक www.axisbank.com
HDFC बैंक https://www.hdfcbank.com

पीएम किसान सम्मान निधि

बजट 2020 के बाद, सरकार ने किसानों को संस्थागत लोन को अधिक सुलभ बनाने की दिशा में एक बड़ा कदम उठाया है। वे किसान सम्मान निधि योजना के साथ किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) योजना को मर्ज करके ऐसा कर रहे हैं। किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थी अब किसान क्रेडिट कार्ड का लाभ उठा सकेंगे, जिसके तहत वे केवल 4% की रियायती दर पर खेती के लिए लोन ले सकते हैं।

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें

इस योजना के तहत किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) के लिए आवेदन करने के लिए निम्न चरणों का पालन करने की आवश्यकता है:

  • एक पेज का फॉर्म भरा जाना चाहिए जो सभी कॉमरशियल बैंकों की वेबसाइट पर उपलब्ध होगा और सभी प्रमुख समाचार पत्रों में भी प्रकाशित होगा
  • आवेदक को जमीन के रिकॉर्ड और बोई गई फसल जैसी आवश्यक जानकारी भरनी होगी।
  • कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) में फॉर्म भरे और जमा किए जा सकते हैं और वे भरे हुए फॉर्म बैंक शाखाओं में ट्रांसफर करने के लिए भी जिम्मेदार हैं
  • बैंकों को यह भी निर्देश दिया गया है कि वे मौजूदा ग्राहकों को योजना के तहत लोन लेने के लिए प्रेरित करें

किसान क्रेडिट कार्ड भुगतान पर 3-महीने का मोराटोरियम

कोविड -19 महामारी ने पूरे भारत में लोगों के सामान्य जीवन को बाधित कर दिया है। अर्थव्यवस्था में व्यवधान को देखते हुए भारतीय रिज़र्व बैंक ने वित्तीय संस्थानों, बैंकों और NBFC को लोन भुगतान पर 3 महीने की मोहलत प्रदान करने की अनुमति दी है। यह सुविधा सभी लोन अकाउंट के लिए है, जिसमें 1 मार्च, 2020 और 31 मई, 2020 के बीच उनकी भुगतान तिथि है।

ध्यान देने योग्य आवश्यक बिंदु

योग्यता- कोई भी जिसकी पुनर्भुगतान तिथि 1 मार्च 2020 और 31 मार्च 2020 के बीच है।

आवेदन कैसे करें- मोरेटोरियम अवधि के लिए आवेदन करने के लिए ग्राहकों को बैंक के संपर्क में रहना होगा। हालाँकि, कुछ बैंक स्वतः ही लोन अकाउंट पर मोरेटोरियम अवधि लागू कर देंगे यदि ग्राहक 1 मार्च 2020 से 31 मार्च 2020 के बीच भुगतान रोक देता है

इसमें कौन से लोन भुगतान को कवर किया जाता है– यह सुविधा निम्नलिखित भुगतानों पर मान्य है:

  • मूल राशि और / या ब्याज 
  • बुलेट पुर्न भुगतान
  • समान मासिक किस्तों (EMI)
  • क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट

मोरेटोरियम अवधि- केवल तीन महीने की मोरेटोरियम अवधि ली जा सकती है। यह सलाह दी जाती है कि ग्राहक ब्याज भुगतान से बचने के लिए अपने लोन का भुगतान तय तिथि पर करें।

ऑटो-पे बंद करें- मोरेटोरियम अवधि का लाभ उठाने की योजना बना रहे ग्राहकों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वो भुगतान के लिए बैंक में दिए गए स्थायी निर्देश को रोक दिया है।

क्रेडिट स्कोर- इस सुविधा का लाभ उठाना आपके क्रेडिट स्कोर को प्रभावित नहीं करेगा या भुगतान पर डिफ़ॉल्ट के रूप में गिना जाएगा।

एक से अधिक लोन अकाउंट पर लागू – ग्राहक; किसी भी और सभी लोन अकाउंट पर मोरेटोरियम के लिए आवेदन कर सकते हैं; जो उनके पास हैं।

क्या आपको मोरेटोरियम अवधि के लिए आवेदन करना चाहिए?

मोरेटोरियम अवधि के दौरान मूल बकाया राशि पर ब्याज लिया जाएगा; इसलिए, यदि आवश्यक हो तो ही मोरेटोरियम का लाभ उठाएं|

 

About naveenduhan

Check Also

PFA Full Form in Mail | पीएफए की फुल फॉर्म क्या है?

दोस्तों, अगर आप इन्टरनेट का उपयोग करते हैं तो आप Email के बारे में भी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.